hyderabad best places

Best 10 Tourist Places to Visit in Hyderabad

Hyderabad History| हैदराबाद इतिहास

hyderabad best places
hyderabad best places

हैदराबाद शहर को मोहब्बत कूली कुतुब शाह ने 1591 में गोलकोंडा से कुछ मिले दूर मूसा नदी के किनारे हैदराबाद नमक नया नगर  बसाया था। जो कुतुब शाह सुलतनत के  शासक थे। और जब हमारा भारत देश आजाद हुआ था 1947 में हैदराबाद भारत का हिस्सा नहीं बनना चाहता था इसी वजह से 1948 तक निजाम के शासन में रहा लेकिन 1948 में भारत सरकार ने ऑपरेशन पोलो के द्वारा इसे इंडिया में शामिल किया और इसके बाद भी 8 साल या 1956 तक अपने करंसी चलाई जो कि हैदराबाद के रुपया माना जाता था और 1956 के बाद इस राज्य को बंद करके आंध्र प्रदेश बनाया गया और यहां के भाषा हिंदी उत्तरी भाषा से बहुत अलग है क्योंकि इसमें तेलुगू, उर्दू, हिंदी का मिक्स करके बोला जाता है और किसी भी नए इंसान को समझ पाना थोड़ा कठिन होता है। यह शहर हैदराबाद भारत के टॉप शहर में से एक हैं यहां पर बहुत बड़े-बड़े स्कूल कॉलेज है यहां पर आईआईटी और इंडिया की तीसरी सबसे पुरानी विश्वविद्यालय उस्मानिया यूनिवर्सिटी मौजूद है। उस्मानिया विश्वविद्यालय की स्थापना 1918 में हैदराबाद के निजाम मीर उस्मान अली खान ने किया था। और कुतुब शाह ने 1591 में चारमीनार इमारत निर्माण किया गया था । यह हैदराबाद तेलंगाना में स्थित एक स्मारक और मस्जिद है इसे विश्व स्तर पर हैदराबाद के प्रतीक रूप में जाना जाता है।

दुनिया का सबसे खास कोहिनूर हीरा 13वीं शताब्दी मैं निकाला गया था जो आज के दिन यूनाइटेड किंगडम की रानी एलिजाबेथ के पास है। यदि आप अपने परिवार के साथ हैदराबाद घूमने आते हैं तो चारमीनार जरूर घूमे क्योंकि कि हैदराबाद की ही नहीं बल्कि भारत का शान माना जाता है। हैदराबाद के कुछ फेमस लोग कबीर खान, सानिया मिर्जा हैदराबाद से ही है इसके अलावा भी हैदराबाद से बहुत बड़े-बड़े लोग सुपरस्टार यहां से हैं।

तेलंगाना राज्य के राजधानी हैदराबाद हैं।

weather in Hyderabad

गर्मी

गर्मी की मौसम की बात करें तो हैदराबाद में ज्यादातर गर्मी ही रहता है। गर्मी के समय में हैदराबाद की तापमान 40 डिग्री के आसपास पहुंच जाता है इस समय के मौसम में घर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है।

मानसून

हैदराबाद में बरसात का मौसम राहत का संदेश लेकर आता हैं। बरसात से गर्मी कि तापमान में काफी गिरावट आ जाती है यहां पर  जून के लास्ट महीने से शुरु होता है सितंबर के लास्ट में खत्म हो जात है इतने समय के दौरान यहां पर बारिश काफी ज्यादा होता है हैदराबाद बरसात के समय में घूमने के लिए अच्छा नहीं रात है।

सर्दी

हैदराबाद में बहुत कम ठंडी पड़ती है ठंडी के समय में यहां पर शाम के समय और सुबह के समय ज्यादा ठंड पड़ती है यहां ठंड का मौसम न नंबर से शुरु होकर जनवरी के अंत तक रहता है इस समय ठंड का तापमान अधिक से अधिक 19 डिग्री के आसपास रहता है।

hyderabad metro map

हैदराबाद मेट्रो ट्रेन को 3 भाग  में बांटा गया है रेड ब्लू और ग्रीन में हैं।

  • रेखा 1 – रेड लाइन – मियापुर – एल बी नगर – 29.2 किमी (18.1 मील)
  • रेखा 2 – ग्रीन लाइन – परेड ग्राउंड्स – फलकनुमा 15 किमी (9.3 मील)
  • रेखा 3 – ब्लू लाइन – नागोल – रायदुर – 27 किमी (17 मील)
resorts in Hyderabad
  • Hidden Castle Resort Hyderabad Luxury
  • Leonia Resort, Hyderabad Luxury
  • Lahari Resort Luxury
  • Golkonda Resort and Spa Hyderabad Luxury
  • Mrugavani Resort and Spa, Hyderabad Luxury
  • Button Eyes Resort
  • Radisson Blu Resort Luxury
  • Celebrity Resort, Hyderabad- Luxury
  • Brown Town Resort and Spa, Hyderabad Luxury
  • Papyrus Port Resort, Hyderabad Luxury
  • Trance Greenfields Resort
  • Aalankrita Resort
  • Pragati Resorts
  • Summer Green Resort
  • Aranya Resort Shamirpet
  • Palm Exotica Resort
  • Amrutha Castle
  • Dream Valley Resorts
  • ITC Kohinoor
  • ITC Kakatiya Hyderabad
  • Brindavan Resort
  • Honey Berg Resorts
  • Mak Club and Resort
  • Trance Greenfield Resort
  • Taramati Baradari Resort

charminar | चारमीनार

 charminar images

charminar images

charminar in hindi :  हैदराबाद शहर के प्राचीन आधुनिक समय का 400 वर्ष पुराने भावनाओं की आधुनिक इमारतों का दर्शन कराता है यह कुतुब शाही चारमीनार को 1591 में बनवाया था यह हमारा ग्रेनाइट से बनाया गया है चार मीनार की ऊंचाई 56 मीटर है। हैदराबाद के प्रसिद्ध जगहों में से एक जगह चारमीनार है यहां दूर-दूर से बहुत लोग घूमने के लिए आते हैं यहां  महिलाओं के लिए एक बाजार हैं। चारमीनार हैदराबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 7 किलोमीटर की दूरी पर है और हैदराबाद बस स्टैंड से 5 किलोमीटर की दूरी पर है।

charminar kahan hai

ऐतिहासिक स्मारक चारमीनार हैदराबाद में स्थित है चारमीनार दो शब्दों को मिलाकर बनाया गया है पहला चार और दूसरा मीनार हैं। चार का अर्थ‌ संख्या से है और मीनार का अर्थ टावर से ऐसे ही चारमीनार शब्द बना है या हैदराबाद के ऐतिहासिक व्यापार मार्ग के चौराहे पर स्थित है इसे बनाने में ग्रेनाइट संगमरमर मटेरियल का इस्तेमाल किया गया है। चारमीनार को कुतुब शाह और भागमती के अटूट प्रेम कहानी माना जाता है। (charminar pincode 500002)

charminar timings

हैदराबाद में स्थित इमारत चारमीनार की यात्रा आप साल में कभी भी कर सकते हैं लेकिन खास तौर पर आप चार मीनार देखने जाते हैं तो अक्टूबर महीने से मार्च महीने तक का समय बहुत ही खूबसूरत और अच्छा रहता है इस समय हैदराबाद का तापमान कम रहता है और यहां पर चारमीनार के अलावे और बहुत प्लेस भी घूम सकते हैं।

golconda fort | गोलकोंडा किला

golconda fort hd images
golconda fort hd images

golconda fort in hindi : गोलकुंडा किले भारत का शाब्दिक साधारण स्मारक माना जाने वाला किला है गोलकुंडा किले अपने समय की नवाबी संस्कृति का अद्भुत चित्रण करता है। गोलकुंडा किले हैदराबाद के दक्षिण भारत के आंध्र प्रदेश की चर्चित शहर हैदराबाद मैं है । गढ़वाली गढ़ और कुर्ती शाही वंश की प्रारंभिक राजधानी है जोकि 1512 से लेकर 1687 तक रही थी गोलकुंडा तो मंकाल के नाम से भी जाना जाता है गोलकुंडा किले को ग्रेनाइट पहाड़ी पर बनाए गए थे। पत्थर की तीन मील लंबी मजबूत दीवार से घिरा है। जो कि 120 मीटर ऊंचा है इसके अंदर एक सुंदर शहर का निर्माण कराया गोलकुंडा किले को 17वीं शतावदी तक हीरे का एक प्रसिद्ध बाजार माना जाता था। यह किला बहुत ही अच्छा है golconda fort timings  सुबह 9 बजें से शाम 5:30 तक गोलकुंडा किले खुलि रहती हैं। golconda fort light show timings और golconda fort sound and light show review गोलकुंडा किले में साउंड और लाइट शो की समयावधि शाम 6 बजे से 9.15 बजे तक है। golconda fort at night बहुत ही खुबशुरूत दिखाई देता है। where is golconda fort located गोलकुंडा दक्षिणी भारत में, हैदराबाद नगर से पाँच मील दुर पश्चिम में स्थित हैं।

ramoji film city | रामोजी फिल्म सिटी

ramoji film city images
ramoji film city images

रामोजी फिल्म सिटी दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म स्टूडियो माना जाता है हैदराबाद के नल्गोंडा मैं स्थित है यह हैदराबाद से 25 किलोमीटर दूर नल्गोंडा मार्ग  में स्थित है। श्री रामोजी राम ने सन्  1996 में स्थापना किया था। रामोजी फिल्म सिटी में एक साथ 20 विदेशी फिल्म और 40 देसी फिल्म बनाई जा सकती है यहां हर 1 साल 10 लाख पर्यटक आते हैं फिल्म बनाने के लिए यह पर्यटक के लिए खास आकर्षक होता है। इससे एलसीडी को अरबों की आमदनी होती है फिल्म स्टूडियो की सुंदरता में चार चांद लग जाती है यह स्टूडियो 2000 एकर से भी अधिक क्षेत्र में फैला हुआ है इसमें 500 से ज्यादा सेट लोकेशन है फिल्म सिटी नवविवाहित जोरों के लिए हनीमून पैकेज भी देते हैं। जापानी गार्डन, ईटीवी प्लेनेट, ताल, कृत्रिम जलप्रपात, हवाई अड्डा, अस्पताल, रेलवे स्टेशन, चर्च, मस्जिद, मंदिर, शॉपिंग कॉपलेक्स, खूबसूरत इमारतें, देहाती दुनिया, स्लम, राजपथ आदि इस फिल्म सिटी के दर्शनीय स्थल हैं।

ramoji film city ticket price टूरिस्ट को 1250 (जनरल) से लेकर 2400 रुपए (प्रीमियम) चुकाने होंगे। स्टूडेंट्स के लिए अलग से पैकेज हैं। ramoji film city tickets online booking इसकी बुकिंग फिल्मी सिटी के ऑफिशियल वेबसाइट से ही कराई जा सकती है। ramoji film city acres 2000 एकर से भी अधिक क्षेत्रफल में फैला हुआ हैं।

ramoji film city contact number- 1800-120-2999  

ramoji film city bus आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु एवं केरल की सरकारी एवं गैर सरकारी बस के द्वारा आप हैदराबाद पहुंच सकते हैं। रामोजी फिल्म सिटी विजयवाड़ा मार्ग (एनएच-09) पर हैदराबाद के करीब 25 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। nearest railway station to ramoji film city रामोजी फिल्म सिटी के निकटतम रेलवे स्टेशन सिकंदराबाद जंक्शन है जो रामोजी फिल्म सिटी से 22 किमी दूर पर है। सिकंदराबाद जंक्शन हैदराबाद का प्रमुख रेलवे जंक्शन है।

ramoji film city hotels

  • Sitara Luxury Hotel
  • Hotel Tara – Ramoji
  • Hotel Shantiniketan
  • Hotel Sahara
  • Chirag’s OYO Hote और भी बहुत सारी होटल हैं।

hussain sagar lake | हुसैन सागर झील

hussain sagar lake old photos
hussain sagar lake old photos

हुसैन सागर झील हैदराबाद में है यह मुसी नदी की सहायक नदी पर 1562 में निर्माण किया गया था और गौतम बुध की एक बड़ी मूर्ति सन् 1993 में झील के बीच टापू पर खड़ी की गई है हुसैन सागर झील सिकंदराबाद और हैदराबाद को आपस में जोड़ने वाली यह झील करीब 32 फीट गहरी है और इसका निर्माण स्थानीय निवासियों को पानी की परेशानी को दूर करने के लिए बनाया गया था। हुसैन सागर झील पर भारी संख्या में लोग पिकनिक मनाने आते हैं इसे हैदराबाद पर्यटक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों का एक महत्वपूर्ण केंद्र माना जाता है। संजीवैयाह पार्क हुसैन सागर झील के किनारे स्थित है यह करीबन 92 एकड़ में फैला है यह पार् अपनी खूबसूरती के अलावा भारत का दूसरा सबसे विशाल तिरंगा झंडा लहराता है। हुसैन सागर झील सप्ताह में सभी दिन खुले रहती है यहां आप किसी भी दिन यहां घूम सकते हैं। दर्शक लोग hussain sagar lake boating भी चलाते हैं। दर्शक लोग

hotels near hussain sagar lake Hyderabad

  • Courtyard by Marriott Hyderabad
  • Hyderabad Marriott Hotel
  • Slackpackr Hyderabad
  • anjani mansion
  • hotels near hussain sagar lake Taj Deccan hotel
  • Elysium Inn Backpacker

birla mandir | बिरला मंदिर

बिरला मंदिर भारत का एक लोकप्रिय मंदिर है birla mandir hyderabad में स्थित है इस मंदिर का निर्माण कार्य 1966 में शुरू किया गया था और 1976 में संपन्न हो गया। यह मंदिर 280 फीट ऊंची पहाड़ी पर निर्मित है इस मंदिर में वेंकटेश्वर समर्पित है जो किया 2000 सफेद राजस्थानी संगमरमर से बना है या मंदिर हुसैन सागर झील के पास स्थित है। इस मंदिर का स्थानीय पता है आदर्श नगर कॉलोनी नौबाथ पहाड़ हुसैन सागर झील के पास हैदराबाद में है। देशभर में कई बिरला मंदिर है जो विभिन्न हिंदू देवताओं जैसे राधा-कृष्ण सरस्वती विष्णु राम शिव विठोबा लक्ष्मी नारायण और वटेश्वर आदि मंदिर स्थापित है। चारों और रंगीन गुलाब और हरे घास के मैदान मंदिर की सुंदरता को शानदार बनाते हैं। birla mandir timings सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक खुलि रहती हैं। birla mandir hyderabad timings शाम 3 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुलि रहती है।

chowmahalla palace

 chowmahalla palace hyderabad images

chowmahalla palace hyderabad images

chowmahalla palace hyderabad में स्थित है chowmahalla palace hyderabad telangana  भारत के सबसे खूबसूरत प्लेस में से एक है chowmahalla palace events 1750 में किया गया था कुछ कारन वस इस प्लेस का निर्माण 1857 से लेकर 1895 के बीच हैदराबाद के पांचवे निजाम यानी अफजल उद दौला और असफ जहां वी के शासनकाल के दौरान हुआ था। या प्लेस लगभग 45 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है या प्लेस दो भागों में बांटा गया है एक प्लेस आंगन और दूसरी प्लेस दक्षिणी आंगन के रूप में जाना जाता है। इस प्रेस के मुख्य द्वार के ऊपर एक गाड़ी है जिससे प्यार से लोग खिलवत घड़ी बोलते हैं। chowmahalla palace timings यहां सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच टिकट लेकर कभी भी घूमने के लिए जा सकते हैं। यह पलैस चारमीनार से कुछ ही दूरी पर मौजूद है। chowmahalla palace dinner भी करने कि सुविधा हैं आप अपने फैमली के साथ डिलर कर सकते है। charminar to chowmahalla palace 1.4 km की दुरी पर हैं। chowmahalla palace events 1750 में किया गया था। chowmahalla palace hyderabad timings सुबह 10 बजें से शाम 5 बजें तक खुलि रहति हैं।

lumbini park

lumbini park Hyderabad के हुसैन सागर झील के निकट बनाया गया है यहां पर 7.5 एकड़ में फैली हुई है इस पार्क का निर्माण 1994 में किया गया था इस पार्क में लेजर ऑडिटोरियम वोटिंग की सुविधा, गार्डन और म्यूजिकल फाउंटेन है इस पार्क में आप अपने परिवार के साथ पिकनिक मनाने का एक अच्छा विकल्प बनाया गया है। hyderabad lumbini park 2007 में आतंकवादी हमले भी हुआ था जो इसमें 44 लोग की मृम्युगए थें और 60 लोग घायल हुए थे। lumbini park timings सुबह 9 बजें से शाम 9 बजें तक खुली रहती हैं। lumbini park boating timings मात्र ३० मिनट का समय दिया जाता हैं। lumbini park hyderabad entry fee 50 रुपये प्रति व्यक्ति है। लुंबनी पार्क पता हैदराबाद मेट्रो स्टेशन के पास है विपरीत सचिवालय नया गेट, हैदराबाद, तेलंगाना 500004

qutub shahi tombs

qutub shahi tombs photography
qutub shahi tombs photography

कुतुब शाही मकबरा हैदराबाद के गोलकुंडा किले से 1 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। कुतुब शाही मकबरा आंध्र प्रदेश के प्रसिद्ध पर्यटन में से एक है quli qutub shahi tombs के छोटे मक़बरे में एक मंज़िला और बड़े मक़बरे दो मंज़िला हैं। इनके गुंबद नीले और हरे रंग के पत्थरों से बनवाये गये थे। लेकिन वक्त बीतने के साथ-साथ ये मिटते गए और आज इनमें से कुछ पत्थर ही बचे हैं। हैदराबाद के सबसे पुराने स्मारकों में से एक माना जाता है यह मकबरे पारसी, पठान और हिंदू शैली का अद्भुत मेला है इसे बहुत ही कुशल से बनाया गया है यहां के आसपास बगीचे भी है जो कि पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करते हैं।

birla planetarium

birla planetarium hyderabad  हैदराबाद में स्थित है बिरला तारामंडल बिरला मंदिर के पास है।और भी कई जगहों पर भी स्थित है जैसे चेन्नई कोलकाता जगहों पर स्थित है। हैदराबाद बिरला तारामंडल देश का पहला तारामंडल है इसका शुभारंभ स्वर्गीय एनटी रामा राव ने 1985 में किया था। यदि आप अपने बच्चों के साथ हैदराबाद घूमने जा रहे हैं तो बिरला तारामंडल जरूर जाएं यहां आपको ब्रह्मांड से जुड़ी कई रोचक बात भी जानेंगे इस तरह मंडल का अनुभव कभी ना भूलने वाला अनुभव साबित होता है। आधुनिक तकनीकी से ब्रह्मांड की मंत्रमुग्ध कर देने वाले यात्रा कराई जाती है birla planetarium hyderabad timings शुक्रवार, सोमवार, मंगलवार, बुधवार, गुरुवार को सुबह 11:30 बजें  खुलती है और 7:30 बजें शाम में बंद कर दिया जाता है। birla planetarium timing रविवार को 10: 30 बजे से 8:30 खुली रहती है birla planetarium show time 12:30 बजे से शाम 6:30 शो दिखाया जाता है।

nehru zoo park

तेलंगाना कें हैदराबाद में स्थित हैं। नेहरू चिड़ियाघर पार्क यह पार्क 80 एकड़ में फैला हुआ है hyderabad nehru zoo park की स्थापना 26 अक्टूबर 1959 में किया गया था और 6 अक्टूबर 1963 को इसका उद्घाटन किया नेहरूगया था जूलॉजिकल पार्क हैदराबाद और सिकंदराबाद के जुड़वा शहर में एक लोकप्रिय स्थान है इस पार्क में जानवरों और पक्षियों की 250 से भी ज्यादा प्रजातियों है nehru zoo park hyderabad timings 6 – 7 घंटे यात्री को घूमने में लग जाता है। तेलंगाना सरकार के द्वारा वन विभाग में देखरेख करने के लिए प्रशासन को दिया है नेहरू जूलॉजिकल पार्क में भारतीय राइनो, एशियाई शेर, पैंथर, गौर, ओरंगुटान, क्रोकोडाइल, और पायथन आदि जैसे कुछ स्वदेशी पशु प्रजातियां मोजुद हैं। नेहरू जूलॉजिकल पार्क में पक्षियों की कई प्रजातियां हैं। यहां पर आठ एशियाई शेर भी है इस पार्क में बच्चों को घुमने के लिए ट्रेन शामिल है। यह पार्क बहुत ही खुबशुरत हैं। यहां आपलोग जरूर देखने के लिए जऐ। nehru zoo park timings in Hyderabad 8:30am–5pm तक खुली रहती हैं। और यह पार्क सोमवार को बंद रहता हैं।

salar jung museum

salar jung museum images
salar jung museum images

सालार जंग संग्रहालय तेलंगाना राज्य की राजधानी हैदराबाद शहर में मुसी नदी तट पर दार-उल-शिफा में स्थित एक काला संग्रहालय है यह भारत के तीन राष्ट्रीय संग्रहालयौं में से एक है सालार जंग संग्रहालय हैदराबाद शहर के पुराने चारमीनार मक्का मस्जिद आदि महत्वपूर्ण स्मारकों के करीब है salar jung museum timings 16 दिसंबर 1991 में स्थापना हुआ था। इसका निर्माण मीर यूसुफ अली खान द्वारा अधिग्रहित किया गया था भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर नेहरू द्वारा जनता के लिए खोला गया था 1961 में संसद के एक अधिनियम के माध्यम से सालार जंग संग्रहालय को पुस्तकालय के साथ एक राष्ट्रीय महत्व की संस्था के रूप में घोषित किया गया था। salar jung museum to chowmahalla palace की दुरी 2.3 किलोमिटर हैं जो की गाड़ी से जाने में 7 मिनट का समय लगता हैं। salar jung museum entry fees 18 वर्ष से अधिक उम्र वाले के 20 रूपया और 5 वर्ष से अधिक उम्र वाले बच्चो के लिए 10 रूपया लिया जाता हैं। और विदेशियों के लिए 150 रुपये लिया जाता हैं। salar jung museum clock का समय सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहती हैं। और शुक्रवार को बंद रहता है।

purani haveli

purani haveli hindi: purani haveli hyderabad  में स्थित है जो आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की राजधानी है। purani haveli हैदराबाद राज्य के निजाम का अधिकृत निवास था पुरानी हवेली को खादिम के नाम से भी जाना जाता है। पुरानी हवेली का निर्माण अली खान बहादुर असफल जहां ने अपने बेटे सिकंदर झांक के लिए किया था यह हवेली 1803 में बनाने के लिए शुरू किया गया था और 1829 में बनकर तैयार हो गया था। जो आसिफ झा तृतीय हैदराबाद में निजाम शासन के आगमन पर किया था उस समय हैदराबाद को रियासत के रूप में जाना जाता था।

tank bund

tank bund images
tank bund images

tank bund road  हैदराबाद और सिकंदराबाद को एक दूसरे से जोड़ता है टैंक बंड पूर्वी तरफ हुसैन सागर झील को बांधता है tank bund hyderabad  की खूबसूरत जगहों पर है यह बांध हैदराबाद और सिकंदराबाद दोनों जगहों को प्रसिद्ध 33 मूर्तियों की पूजा की जाती है हर रविवार शाम को संस्कृत विभाग द्वारा यहां संस्कृत कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं टैंक बंड पर सुबह और शाम टहलने के लिए हैदराबाद में सबसे लोकप्रिय क्षेत्र में से एक है। टैंक बंड रोड को यातायात की भीड़ को कम करने के लिए बनाया गया था इस सड़क में लुंबिनी पार्क सबसे नजदीकी पार्क है और फोटोग्राफी के लिए भी एक प्रमुख बिंदु है love hyderabad tank bund  भारत सेना ने पाकिस्तान में बसंतर की लड़ाई के दौरान 15 और 17 दिसंबर 1971 के बीच अक्षम कर दिया था।  tank bund pincode – 500080

snow world

snow world hyderabad  में स्थित हैं।इस पार्क को 2004 में शुरुआत किया गया था यह एक समय में 2400 लोगों को एक साथ अंदर रहने की व्यवस्था कर सकता है आप यहां मानवनिर्मित बर्फ और बर्फबारी का आनंद ले सकते हैं इस इंडोर पार्क में बर्फ की परतें बिछाई गई है इस पार्क में घूमने के लिए आपको ऊनी कपड़े पहनने होंगे।  ठंड से बचने के लिए और जैसे ही आप अंदर प्रवेश करेंगे आपके शरीर को गर्माहट करने के लिए गर्म सूप पीने को दिया जाएगा। स्नो वर्ल्ड हैदराबाद में आने वाले पर्यटकों के लिए एक लोकप्रिय स्थान है इसलिए यहां पर पर्यटकों की काफी भीड़ लगी रहती है इस बार को 2 एकर क्षेत्र में बनाया गया है। snow world ticket price वयस्कों के लिए 500 , बच्चे के लिए 300, कॉलेज के छात्रों के लिए 350, स्कूली छात्रों के लिए 300 रूपया लिया जाता है। snow world timings Hyderabad 11:00 am – 9:00 pm खुली रहती हैं। स्नो टाउन के साथ सपनों की दुनिया (dream world with snow town) भी कहा जाता हैं।

ntr gardens

ntr gardens photos
ntr gardens photos

ntr gardens hyderabad  शहर के हुसैन सागर झील के पास है यह पार्क हैदराबाद का छोटा सा पार्क है एनटीआर गार्डन लोग के बीच काफी लोकप्रिय है हुसैन सागर झील के बगल में होने के कारण यहां पर लोग का आना जाना लगा रहता है एनटीआर का निर्माण 1999 में शुरू किया गया था यह आंध्र प्रदेश के महान नेता स्वर्गीय एन टी रामाराव के स्मारक के रूप में बना है यह पार्क 55 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है यह पार्क आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा ₹400000000 बनवाने के लिए दिया गया था यह पर्यटकों के लिए अपनी और आकर्षित करती है एनटीआर गार्डन हैदराबाद की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है इस जगहों को मनोरंजन केंद्र भी माना जाता है इस पार्क में रंगीन फूल, वृक्ष, झाड़ियों और पौधे की स्थापना इस जगह की गहरी सुंदरता है ntr gardens main gate बहुत ही सुंदर हैं जो कि पर्यटकों के लिए आकर्षक बनाते हैं। ntr gardens timings  दोपहर 2.30 बजे से रात 10 बजे तक खुला रहता है। ntr gardens ticket 20 रुपये वयस्कों के लिए; 10 रुपये बच्चों के लिए लिया जाता है। ntr gardens park timings दोपहर 2.30 बजे से मध्यरात्रि तक खुली रहती हैं।

durgam cheruvu

हैदराबाद के पास रंगरेड्डू जिले में स्थित यह झील बना हुआ है। इस झील को गुप्त झील भी कहा जाता है क्योंकि यहां जुबली हिल्स और मधापुर क्षेत्र में काफी छुपा हुआ है हैदराबाद के लोग में इस झील का ऐतिहासिक महत्व है क्योंकि कुबित शाही वंश के दौरान गोलकुंडा किले के आसपास रहने वाले लोगों को इस झील के पानी उपलब्ध होता था और किसान भी अपने सिंचाई के लिए पानी का उपयोग करते थे 2001 मैं सरकार ने झील के आसपास के क्षेत्रों को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया था।

हैदराबाद के दुर्गम चेरुवु फूल जो निजामों शहर को सुशोभित करने वाले नवनिर्मित durgam cheruvu bridge  है जिसे 25 सितंबर 2020 को सार्वजनिक उपयोग के लिए खोला गया था एस ब्रेड की लंबाई 435 मीटर और चौराहे 25.8 मीटर है durgam cheruvu cable bridge का उद्घाटन तेलंगाना के नगर प्रशासन और शहरी विकास मंत्री के टी रामाराव ने किया था इस पुल को बनाने में 184 करो रुपया लगा है जुबली हिल्स मधापुर तक आने-जाने के समय को 30 से 10 कम कर दिया durgam cheruvu park  बहुत ही खूबसूरत है यहां पर दूर-दूर से लोग घूमने आते हैं यह जगह हैदराबाद के प्रसिद्ध जगह में से एक जगह यह भी है यदि आप सभी अपने परिवार के साथ हैदराबाद घूमने आते हैं चेरुवु  पार्क जरूर घूमे durgam cheruvu pincode 500081

durgam cheruvu metro station distance

  • Madhapur Metro Station- 1 Km
  • Durgam Cheruvu Metro Station- 1 Km
  • Pedamma Temple Metro Station- 2 Km
  • Hitech City Metro Station- 2 Km
  • Jubilee Hills Check Post Metro Station- 2 Km

Shilparamam

shilparamam in Hyderabad माधोपुर जिले के हाईटेक सिटी के पास स्थित हैं। शिल्परमम एक जाना माना गांव है shilparamam hyderabad से 20 किलोमीटर दूरी यह गांव पूरी तरह से कला और शिल्प को समर्पित है जिससे यह गांव पूरे देश में जाना जाता है इस गांव की शुरुआत 1942 में हुई थी यह गांव बहुत दूर फैला हुआ घास के मैदान पर बना है जोकि देखने के बाद बहुत सुकून पहुंचता है shilparamam hitech city हैदराबाद का प्रमुख टॉउनशिप एरिया है। यह आईटी सिटी मधापुर और गचीबावली के नगर परिषद के पास ही है जब बेंगलुरु एक आईटी सेंटर के रूप में बताया था तब आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायडू ने हैदराबाद को आईटी हब बनाने की योजना बनाई थी। नायडू ने कई आईटी कंपनियों को यहां सेंटर स्थापित करने का निमंत्रण दिया था आईटी सेक्टर प्रोजेक्ट का पहला चरण साइबर टावर और दूसरा चरण साइबर गेटवे था। shilparamam to airport की दुरी 24.2 किलोमिटर हैं। shilparamam timings 10:30am–8pm तक खुलि रहती हैं। shilparamam pincode 500081

chilkur balaji temple

हैदराबाद की सीमा से लगभग 40 किमी दूर स्थित चिलकुर बालाजी मंदिर स्थित है यह मंदिर 500 साल पुरानी मंदिर है हैदराबाद का चिलकुर बालाजी मंदिर विसा भगवान के नाम से भी जाना जाता है यह एक प्राचीन हिंदू मंदिर है यह मंदिर किसी भी प्रकार के धन को स्वीकार नहीं करती है इस मंदिर के अंदर कोई भी दान पेटी नहीं है भगवान की नजर में सारे लोग बराबर है इस कारण महत्वपूर्ण व्यक्ति के लिए यहां अलग से कोई व्यवस्था नहीं की जाती है यह मंदिर उस्मान सागर झील के किनारे पर बना है और मेहदीपट्नम से करीब 33 किलोमीटर दूरी पर है यहां पर साल में हर रोज हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं पूजा करने के लिए chilkur balaji temple timings सुबह 06:00  बजें से शाम 06:00  बजें तक खुली रहती हैं। hyderabad to chilkur balaji temple distance 28.2 किलोमिटर दुरी पर स्थित हैं। secunderabad to chilkur balaji temple distance 30.7 किलोमिटर पर स्थित हैं। miyapur to chilkur balaji temple 33.3 किलोमिटर दुरी पर स्थित हैं। uppal to chilkur balaji temple 35.9 किलोमिटर पर स्थित हैं।

taj falaknuma palace

taj falaknuma palace hyderabad के बहुत ही अधिक श्रेष्ठ स्थानों में से एक है यह प्लेस हैदराबाद स्टेशन से संबंध रखता है चारमीनार से सिर्फ 5 किलोमीटर की दूरी पर है फलकनुमा को बनाने में 9 साल का वक्त लगा था इसका निर्माण नवाब वाकर उल कुमार द्वारा किया गया था जो कि हैदराबाद के प्रधानमंत्री थे।यह महल 32 एकड़ में फैला हुआ है इसमें कूल बॉयोस हॉल और 60 कमरे हैं यहां के डायनिंग हॉल दुनिया का सबसे बड़ा डायनिंग हॉल है जिसमें एक साथ 101 लोग बैठ कर खाना खा सकते हैं यह प्लेस राजा महाराजाओं के समय में यहां जनता दरबार लगता था साथ ही यह महल उस समय में होने वाले शानदार जश्नों का भी गवाह है। taj falaknuma palace entry fee रु.3,100/वयस्क और रु.2480/बच्चा प्रवेश टिकट, चाय और नाश्ता, खाता परिवहन, टूर गाइड  |  रु.2,000/वयस्क और रु.1,600/बच्चा खाता परिवहन, टूर गाइड

taj falaknuma palace menu

  • Celeste
  • Adaa
  • Hookah Lounge
  • Jade Terrace
  • Unique Dining Experiences At Gol Bungalow

gandipet lake

gandipet lake information : gandipet lake hyderabad  दर्शनीय स्थल का निर्माण करता है या झील उस्मान सागर के रूप में जाना जाता है गांधी पेठ झील 46 किलोमीटर क्षेत्र में फैली हुई है। उस्मान सागर झील का नाम मीरा उस्मान अली खान के नाम पर रखा गया है जिन्होंने 1920 में शहर को बांध से बचाने के लिए झील पर एक बांध बनाया था बांध दो शहरों के बीच बनाया गया है जिसे जुड़वा शहर कहा जाता है हैदराबाद और सिकंदरा के लिए मुख्य जला से है यह जेल हैदराबाद और सिकंदराबाद दोनों के लिए पानी का मुख्य स्रोत है गांधीपेट झील एक अद्भुत दर्शन अस्थल भी बनाती है सूर्यास्त और सूर्योदय लोगों को मंत्रमुग्ध कर देने वाला जगह है। इस झील की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च महीने के दौरान होता है यहां आसपास के सुखदायक आनंद लेने के लिए जलवायु अधिक ठंडी होती है। उस्मान सागर स्थान सिकंदराबाद से लगभग 20 किलोमीटर दूर है। gandipet lake timings दिन रात खुलि रहती हैं। यहां रूकने के लिए सागर महल नाम का गेस्ट हाउस बनबाया हैं।

mount opera reviews

mount opera hyderabad  के थीम पार्क की लोकप्रिय पर्यटन स्थल में से एक है। हैदराबाद विजयवाड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित mount opera थीम पार्क लोकप्रिय रामोजी फिल्म सिटी से सिर्फ 4 किलोमीटर दूर स्थित है। माउंटेन ओपेरा 55 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है पहाड़ी की चोटी पर स्थित माउंटेन ओपेरा हैदराबाद अपने विभिन्न प्रकार सवारी के साथ प्रस्तुत करता है। माउंटेन ओपेरा परिसर में एक खुला थिएटर भी है जिसमें 1500 लोगों को बैठाने की क्षमता रखती है mount opera rides शुल्क इस प्रकार है: गो-कार्टिंग (रु.90/-), बंपर कार (रु.30/-), थ्रिलारियम (रु.45/-), बोटिंग (2 सीटर के लिए रु.40/-) बंजी जंपिंग (रु.30/-)। स्कूल पिकनिक और कॉलेज पिकनिक (भोजन और सवारी सहित) जैसे मौसमी पैकेज भी न्यूनतम 50 लोगों के अनुरोध पर उपलब्ध हैं। mount opera resort booking आप अपने मोबाई से ऑनलाईन बुकिंग कर सकते हैं

sanghi temple

sanghi temple hyderabad के बाहरी क्षेत्र संगी नगर में स्थित है sanghi temple distance हैदराबाद से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है इसे देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते रहते हैं इस मंदिर को रवि संघी ने बहुत ही कम समय में बनवाया था इस कार्य को पूरा करने में उनकी पत्नी अनीता संघी ने मदद की थी संगी मंदिर ऊंचे बने राज गोपुरम के लिए जाने जाते हैं जोकि स्थानीय लोग के बीच पवित्र मंदिर है इस मंदिर में भगवान बटेश्वर जी को पूजा जाता है इसके परिसर में हनुमान मंदिर बालाजी श्री राम पद्मावती शिव कार्तिक विजय गणपति और दुर्गा मंदिर भी बने हुए हैं यह प्रसिद्ध मंदिर परमानंद गिरी पहाड़ी में स्थित है जोकि से करो भक्त और श्रद्धालुओं को आकर्षित करता है। sanghi temple timings  सुबह 8:00  बजें से दोपहर 1:00  और शाम 4:00 बजें से रात 8:00 बजें तक खुली रहती हैं। sanghi temple bus timings सुबह 7:25 – 8:45 शुरू होकर चलती हैं और रात के अंतिम बस 7:25-8:55 तक चलती हैं। sanghi temple bus route  कोटि महिला कॉलेज से सांघी नगर मार्ग से जाती हैं।

kbr national park

kbr national park hyderabad के जुबली हिल्स क्षेत्र में स्थित है केसु ब्रह्मानंद रेड्डी नेशनल पार्क हैदराबाद में जुबली हिल्स क्षेत्र की जगहों पर स्थित है चिरन महल राजकुमार निवास स्थान था इस पार्क को 1998 में राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा प्राप्त हुआ था। इस पार्क में आप मोर जंगली बिल्ली और भारतीय टमाटर कस्तूरी देख सकते हैं पक्षी और जानवरों को प्यास बुझाने के लिए भारत में विभिन्न स्थानों पर छोटे-छोटे जलाशय बनाए गए हैं यह पाठ 6000 वर्ग मीटर में फैला हुआ है इस पार्क को 1960 में बनाया गया था इस पार्क का नाम राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री के नाम पर रखा गया था इस पार्क में सरीसृपों की 20 प्रजातियां, पक्षियों की 13 प्रजातियां, तितलियों की 15 प्रजातियां, स्तनधारियों की 20 प्रजातियां और पेड़ों की 600 प्रजातियां मोजूद हैं। यह पूरा क्षेत्र पहले हैदराबाद के निज़ाम का था, और अब यह वन विभाग के अधीन आ गया है। kbr national park hyderabad timings सुबह 5 बजें से 9:30 तक और शात 4 बजें से 6:30 तक खुली रहती हैं। kbr national park in Hyderabad में स्थित हैं।

mecca masjid

mecca masjid hyderabad  में स्थित है यह मस्जिद भारत में सबसे पुरानी मस्जिद में से एक है और यह भारत की सबसे बड़ी मस्जिद है। मक्का मस्जिद पुराने शहर हैदराबाद में इमारत पर है जो कि चौमाहल्ला, प्लेस लाद, बाजार और चारमीनार इन सभी स्थानों के नजदीक है। mecca masjid in hyderabad भारत का ऐतिहासिक इमारत कहा जाता है। मक्का मस्जिद का निर्माण मोहब्बत कुली कुतुब शाह हैदराबाद के 6वें सुल्तान ने 1667 में मीरा फैजुल्लाह बेगम और रंगियाह चौधरी के निगरानी में इसका निर्माण शुरू किया था यह काम 1694 में मुगल सम्राट औरंगजेब के वक्त में पूरा हुआ था इसे बनाने में लगभग 8000 राजगीर और 77 वर्ष लगे। मोहब्बत कुली कुतुब शाह ने इस मस्जिद का निर्माण शहर के केंद्र पथ में करके इसके आसपास शहर का आयोजन किया था। मक्का मस्जिद के लंबाई 67 मीटर और चौराहा 54 मीटर, ऊंचाई 23 मीटर है। मस्जिद का प्रवेश द्वार बहुत ही सुंदर है। mecca masjid blast 18 मई 2007 में हुई बम विस्फोट मक्का मस्जिद में 9 लोग की मौत हो गई थी और 58 लोग घायल हुए थे इसके मामले में 10 लोगों को आरोपी बनाया गया था।

taramati baradari history

taramati baradari hyderabad  में स्थित हैइसका निर्माण मूसी नदी के तट पर किया गया था आज यह क्षेत्र भारत के हैदराबाद शहर के समीप के अंतर्गत आता है जो इब्राहिम के हिस्से के रूप में एक ऐतिहासिक रस्सी है जो गोलकुंडा के चौथे सुल्तान इब्राहिम कुली कुतुब शाह ने शासनकाल के दौरान बनाया गया था और यह एक फारसी शैली का बगीचा है taramati baradari निर्माण तारामती और उनकी बहन प्रेमामती के सम्मान में बनवाया गया था पर्यटन विभाग इस नाम का श्रेय गोलकुंडा के सातवें सुल्तान अब्दुल्ला कुतुब शाह के शासनकाल को देता है, जिसका नाम उन्होंने अपने पसंदीदा दरबारी, तारामती एक कुचिपुड़ी नर्तक के नाम पर रखा है। दोनों बहन अब्दुल्ला कुतुब शाह के दरबार में नाचने और गाने का काम करती थी सुल्तान ने उसकी प्रस्तुति से इतने प्रभावित हुए की उन्होंने बड़ी बहन के नाम पर सराय का निर्माण करवाएं। taramati baradari timings 11:30 – 06:00 खुली रहती हैं।  taramati baradari resort रिसॉर्ट के कमरे विशाल और उपयोगकर्ता के अनुकूल हैं। रिज़ॉर्ट में एक स्मारिका की दुकान और स्विमिंग पूल भी है और बहुत सारी सुविधा दिया गया हैं।

तारामती बरादरी हैदराबाद में स्थित हैइसका निर्माण मूसी नदी के तट पर किया गया था आज यह क्षेत्र भारत के हैदराबाद शहर के समीप के अंतर्गत आता है जो इब्राहिम के हिस्से के रूप में एक ऐतिहासिक रस्सी है जो गोलकुंडा के चौथे सुल्तान इब्राहिम कुली कुतुब शाह ने शासनकाल के दौरान बनाया गया था और यह एक फारसी शैली का बगीचा है इसका निर्माण तारामती और उनकी बहन प्रेमामती के सम्मान में बनवाया गया था दोनों बहन अब्दुल्ला कुतुब शाह के दरबार में नाचने और गाने का काम करती थी सुल्तान ने उसकी प्रस्तुति से इतने प्रभावित हुए की उन्होंने बड़ी बहन के नाम पर सराय का निर्माण करवाएं।

Hyderabad botanical garden

या बॉटनिकल गार्डन हैदराबाद शहर के मुंबई हाईवे पर स्थित है जोकि हाइटेक सिटी के पास पाया जाता है या गार्डन प्रेरकों के लिए बहुत ही काफी चर्चित है हैदराबाद रेलवे स्टेशन से बॉटनिकल गार्डन की दूरी महज 16 किलोमीटर दूर होती है।

बॉटनिकल गार्डन के नाम से ही पता है कि यह गार्डन पेड़ पौधे से संबंधित होंगे जिसमें कई तकनीक से लैस जर्म प्लाज्मा का सरंक्षण और उसका विकास किया जाता है जिसका मुख्य उद्देश्य है गार्डन को प्रकृति रूप से ढांचा प्रदान करना और लोगों को उसके प्रति जागृत करना।

आज के समय में बॉटनिकल गार्डन की कुल 5 सेक्शन है जो आम लोगों के लिए खुले रहते हैं जिसमें पहला सेक्शन औद्योगिक पौधे दूसरा सजावटी पौधे तीसरा जलीय पौधे चौथा टेंपल ट्री पांचवा बांस छठा फलों के पेड़ और बहुत कुछ देखने को मिलता है।

या गार्डन बहुत ही ज्यादा मनमोहक और सुंदर आकृति का है इसे देखने के लिए अगर आप हैदराबाद आए हैं तो एक बार जरूर से देखें देखने में बहुत ही ज्यादा रोचक और प्रकृति दृश्य का है।

Hyderabad botanical garden ticket fee

इस बॉटनिकल गार्डन के टिकट की बात की जाए तो इसमें बाहर में वाहन पार्क करने के लिए उसके अलग से टिकट देने होते हैं बच्चे के लिए अगर टिकट की कीमत होती है और बड़े के लिए टिकट की अलग कीमत होती है यह समय के हिसाब से बदलते रहता है इसका कोई निश्चित सीमा नहीं रहती है और इस गार्डन में बहुत सारे लोग पास बनाकर भी आते रहते हैं जिसमें सुबह के morning walk and yoga के परपस से आते हैं और डेली बेसिस पर लोग घूमने के लिए भी आते हैं सभी का समय निर्धारित रहता है हैदराबाद किस बॉटनिकल गार्डन के अंदर नंबर ऑफ प्लांट सिक्स हंड्रेड प्लस मिलेंगे जिसमें प्रत्येक प्लांट का साइंटिफिक नेम फैमिली एंड कॉमन नेम के साथ प्लांट में नाम का प्लेट लगा हुआ जाता है।

इस बॉटनिकल गार्डन के अंदर जिम की भी सुविधा उपलब्ध कराई गई है और बहुत सारे अलग-अलग जोन में इसे विभाजित किया गया है यहां पर बहुत ही प्राची तरह की शांति व्यवस्था पाई जाती है लोग यहां पिकनिक मनाने के लिए उधर से भी आते हैं, लोग यहां ग्रुप में एवं फैमिली के साथ खेलने के लिए एवं मनोरंजन के लिए यहां आते जाते रहते हैं।

Botanical garden in India

Botanical garden
Botanical garden

भारत के अलग-अलग शहरों ने बॉटनिकल गार्डन की स्थापना अलग-अलग उद्देश्य किया गया है इसका मुख्य उद्देश्य है कि प्रकृति के धरोहर को सही रूप से बनाए रखना जिसमें प्लांट का जर्म प्लाज को संरक्षित करके

सही समय पर उसका उपयोग किया जाता है,

भारत में पाए जाने वाले बॉटनिकल गार्डन के लिस्ट और उनके शहर के नाम नीचे दिए गए हैं आप उनको देखकर और विजिट कर सकते हैं।

Lalbagh Botanical Gardens, Bangalore:

  1. Government Botanical Gardens, Ooty:
  2. TNAU Botanical Garden, Coimbatore:

The Acharya Jagadish Chandra Bose Indian Botanic Garden, Kolkata:

  1. The Agri Horticulture Society of India, Alipore, Kolkata:
  2. Lloyd’s Botanical Garden, Darjeeling:
  3. National Botanical Research Institute (NBRI), Lucknow:
  4. Botanical Garden of Forest Research Institute (FRI), Dehradun:

निष्कर्ष

आज हमने हैदराबाद के बहुत सारे जगहों के बारे में जाने जो कि यह सबभी जगह ऐतिहासिक है इन सभी जगहों को किस तरह से पहले के शासकों ने बनाया था और किस  वजह से बनाया था। आज के समय में यह सब जगह घूमने के लिए बनाया गया है। हैदराबाद के समय के बारे में जाने वहां के मौसम किस तरह से रहता है और हैदराबाद में किस तरह से एक जहग से दुसरे जगह घुमने कैसे जा सकते हैं और कितना दुरी पर हैं इस सभी कि जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से जाने हैं हैदराबाद में बहुत सारी मंदिरख, रिजॉर्ट, होटल, इन सभी प्लेस के बारे जाने हैं दोस्तों अभी आपको या पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Click Here To Translate