Pocharam dam

Best 10. place east godavari district temple & dam

Best 10. place east godavari district temple & dam

जिले के अंतर्गत आने वाले पयर्टन अस्थल 

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सब उम्मीद करते हैं कि आप लोग बहुत ही अच्छे होंगे। आज किस पोस्ट में हम आप लोगों को samalkot के पर्यटन स्थल के बारे में जानेंगे और साथ ही samalkot pincode के बारे में भी जानेंगे ताकि पर्यटन स्थल का सही लोकेशन अच्छे से जान पाएंगे।

East Godavari | पूर्वी गोदावरी

East Godavari
East Godavari

samalkot भारत में स्थित आंध्र प्रदेश राज्य के east godavari जिले में एक जगह का नाम है जिसका नाम समलकोट दिया गया है, यह जगह अपने आप में ढपर्यटन के लिए बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध मानी जाती है क्योंकि यहां मंदिर बहुत ही ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं। Samalkot pincode नंबर की बात की जाए तो अलग-अलग पर्यटन स्थल के अलग-अलग पिन कोड हो सकते हैं। आगे चलकर हम समलकोट के अंदर जितने भी पर्यटन स्थल के बारे में बात करेंगे, कोशिश करेंगे कि उन सभी जगहों का godavari pincode/zip code के बारे में बताते जाएं। सबसे पहले हम समलकोट के रेलवे स्टेशन के बारे में जानेंगे, क्योंकि पर्यटन के लिए सबसे सस्ती यात्रा का साधन भारत में रेल द्वारा ही किया जा सकता है। godavari samalkot railway station यह एक मशहूर रेलवे स्टेशन में से एक हैं क्योंकि यहां पर्यटन के लिए पर्यटक को इसी रेलवे स्टेशन के माध्यम से अधिकांश जाना आना लगा रहता है।

समलकोट रेलवे स्टेशन का मुख्य रेलमार्ग लाइन हावड़ा से चेन्नई के बीच है या रेलवे स्टेशन East godavari जिले में स्थित है। इस रेलवे स्टेशन में तीन प्लेटफार्म बनाए गए हैं, east godavari रेलवे स्टेशन में 6 रेलवे ट्रैक बिछाई गई है। यात्री की सुविधा के लिए पार्किंग की भी व्यवस्था की गई है। यह सब जानकारी लेने के बाद अब हम आप लोगों को godavari samalkot temple के बारे में बात करेंगे जोकि देखने में और ऐतिहासिक स्थल पर बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय और दिलचस्प है। आप जब कभी भी आंध्र प्रदेश आए तो एक बार godavari समलकोट आने की कोशिश जरूर करें और यहां की प्रकृति का अद्भुत नजारा जरूर देखें।

Samalkot temple की बात की जाए तो यहां तो ऐसा माना जाए कि, मंदिरों का नगरी ही बसा हुआ है। क्योंकि यहां बहुत तरह के मंदिर पाए जाते हैं जो कि आपको नीचे दिए जाएंगे आप उन्हें देख ले और अपनी इच्छा अनुसार, अपना पर्यटन स्थल का चुनाव करें।

मंदिर का नाम देखें। | See the name of the temple.

मंदिर
मंदिर

Sri Chalukya Kumararama Bhimeswara

Address: 25RC+WF5, Jaggamma Garipeta, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

bheemeswara temple

Address: Unnamed Road, Jaggamma Garipeta, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Swayambhu Lord Shiva Temple Address: 25RG+4FG, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Durgamma Temple

Samalkot shiva temple

Annapurna sametha sri rama lingeswara swamy temple Address: Jaggamma Garipeta, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Ganesh (Vinayaka) Temple Address: Samalkot-Pithapuram Main road, Sriramnagar, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Anjaneya Swami Temple ,Samarlakota

Ayyappa Swami Temple

Kavamma Gudi

Krishna temple

Siva temple

Jagadeeswara Swamy Temple

Chandrasekhara swamy temple

RAMALAYAM

Kanakamahalakshmi Temple

समलकोट आने वाले पर्यटक के लिए यहां रहने और खाने की व्यवस्था भी अच्छी तरीके से हो जाती है क्योंकि यहां hotels in samalkot मिल जाती हैं यहां सस्ती से सस्ती और महंगी से महंगी होटल की भी व्यवस्था है जिसमें कि रहने और खाने की सुविधा दी जाती है godavari के जगह का होटल का लिस्ट नीचे दिया जाएगा और उनके एड्रेस और पिन कोड भी जिससे कि पर्यटक को किसी भी तरह का कोई परेशानी का सामना ना करना पड़े एड्रेस पर पहुंचकर अपने सुविधानुसार होटल का चुनाव करके रह सकते हैं खा सकते हैं सो सकते हैं।

Hotels in samalkot list

OYO 78854 Sea Coastal Inn

Sarpavaram, Kakinada (Rural), East Godavari, Andhra Pradesh, 533003, Kakinada, Andhra Pradesh 533005

Venky Residency

Door No. 12-1, 28, Jawahar St, opposite Salipeta Fire Station, Surya Rao Peta, Kakinada, Andhra Pradesh 533001

SR GRAND PARK REGENCY

 Sriramnagar, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Sri Lakshmi Hayagreeva Residency

 HP Gas Agencies Building, Mattam Center, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

Venky Residency

 Door No. 12-1, 28, Jawahar St, opposite Salipeta Fire Station, Surya Rao Peta, Kakinada, Andhra Pradesh 533001

Raghu Residency

 Teachers Colony, Nimmathota, Samarlakota, Andhra Pradesh 533440

draksharamam to samalkot distance अगर इस दोनों जगह की दूरी की बात की जाए तो अलग-अलग मार्ग के ऊपर निर्भर करता है जैसे कि रेल मार्ग, सड़क मार्ग, सड़क मार्ग की बात की जाए तो सड़क मार्ग में पैदल यात्रा, दो चक्का गाड़ी, कार से जाने पर अलग-अलग दूरी और अलग-अलग समय भी लग सकता है इसका पूरा जानकारी नीचे दिया गया है आप वह भी पढ़ सकते हैं।

Car | कार से जाने के भी तीन रास्ते हैं जो कि नीचे दिए गए हैं, आप इस रास्ते के माध्यम से आसानी से draksharamam पहुंच सकते हैं और यहां से samalkot भी आसानी से जा सकते हैं। आप नीचे देखें।

1 hr 9 min (42.0 km) via Kakinada Amalapuram Narsapuram Rd/Kakinada – Draksharama Rd/Kotipally – Kakinada Rd and NH216

 

1 hr 11 min (39.8 km) via Velangi – Vetlapalem Rd

 

1 hr 16 min (41.8 km) via Kakinada Rajahmundry Rd

तो दोस्तों आज हमने ऊपर के पोस्ट में godavari  के समलकोट के बारे में जानकारी ली है। अब हम Nizamabad district के बारे में जानेंगे। Nizamabad pincode

और वहां के फेमस पर्यटन वाले जगह के बारे में जानकारी लेंगे। तो सबसे पहले हम Nizamabad के बारे में जानेंगे।

निजामाबाद एक जिला है, जोकि तेलंगाना राज्य मैं स्थित है। Nizamabad का प्राचीन नाम Indur या इंन्दरापुरी के नाम से जाना जाता था। निजामाबाद अपनी समृद्धि और संस्कृति के साथ साथ ऐतिहासिक स्थलों के एवं प्राकृतिक सुंदरता के लिए भी प्रसिद्ध माना जाता है। निजामाबाद जिला का सीमा करीमनगर, मेदक नंदेदू जिले से मिलती है। इसका नाम हैदराबाद प्रांत के निजाम के नाम से रखा गया था।

Nizamabad tourist place | निजामाबाद पर्यटन स्थल

Nizamabad tourist place
Nizamabad tourist place

निजामाबाद के पर्यटन की बात की जाए तो यहां का पर्यटन स्थल बहुत ही ज्यादा ऐतिहासिक रहा है। निजामाबाद के पर्यटन स्थल में से कुछ जगह के नाम नीचे दिए गए हैं। आप यहां जाकर वहां विजिट कर सकते हैं।

Nizam Sagar | निजाम सागर यह सागर को godavari नदी की एक शाखा मंजीरा नदी पर बनाया गया है इस सागर की दूरी हैदराबाद से लगभग 144 किलोमीटर है। निजाम सागर अपनी मनमोहक खूबसूरती के लिए बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध मानी जाती है यहां का मुख्य आकर्षण विशाल बांध है, जिस पर 3 किलोमीटर लंबी सड़क बनी हुई है यहां के खूबसूरत उद्यान लोगों को अपनी और आकर्षित करते हैं। निजाम सागर घूमने आने वाले पर्यटक के लिए यहां वोटिंग की भी सुविधा उपलब्ध है। यहां आने के बाद बहुत ही अच्छी तरह का शांति और कुछ अलग तरह का खुशी मिलता है आप जब भी हैदराबाद आए तो एक बार निजाम सागर को जरूर विजिट करें।

Ashok Sagar(अशोक सागर) अशोक सागर एक विशाल कृत्रिम जलाशय हैं, जो कि निजामाबाद से लगभग 7 किलोमीटर दूर बनाई गई है। यहां पर्यटन के लिए उद्यान और खूबसूरत चट्टान हैं, जलाशय के बीचो बीच माता सरस्वती की 15 फीट ऊंची प्रतिमा भी बनाई गई है जोकि अशोक सागर घूमने वाले पर्यटकों के लिए अद्भुत दृश्य को एक अलग ही चार चांद लगा देती है। अशोक सागर के पास ही, अष्टभुजाकार रेस्टोरेंट में खानपान का भी बहुत ही अच्छा आनंद लिया जा सकता है, अशोक सागर में एक झूलने वाला पूल और वोटिंग सुविधा भी पर्यटकों के लिए उपलब्ध कराई गई हैं।

Kantheshwar (कंठेश्वर) यह मंदिर करीब 500 साल पुराना है जिसमें नीलकंठेश्वर को समर्पित है। इस मंदिर का वास्तु शिल्प देखते ही बनता है। इस मंदिर का निर्माण सातवाहन राजा सतकरर्नी के द्वारा बनवाया गया था।

ऐसे ही बहुत सारे पर्यटक स्थल हैं निजामाबाद में, जिसका नाम जैसे कि बड़ा पहाड़ दरगाह, निबाद्री गुट्टा, सारंगपुर, आर्कलॉजिकल एंड हेरिटेज म्यूजियम, रामालयम किला इत्यादि।

तो दोस्तों आज के ऊपर की पोस्ट में हमने निजामाबाद के कुछ पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी ली है अब आगे हम pocharam dam & wildlife sanctuary, pocharam wildlife sanctuary and lake medak के बारे में जानकारी लेंगे। या ज्यादा बहुत ही ज्यादा खास होने वाला है, चलिए देखते हैं।

Pocharam wildlife sanctuary यह वन्य जीव अभ्यारण को 20 वीं सदी में सेंचुरी के रूप में सरकार ने इसे मान्यता दिया है। यहां अभ्यारण हैदराबाद से 115 किलोमीटर की दूरी पर बना हुआ है। इस वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में आने के लिए पर्यटक को बस या टैक्सी किराए पर लेकर आना पड़ता है। प्राचीन काल में इस अभ्यारण को हैदराबाद के निजाम के द्वारा शिकार खेले जाने के लिए उपयोग किया जाता था। इस अभ्यारण का नाम यहां पर स्थित वचन झील के नाम पर रखा गया है। जिस पर अल्लाइर बांध को बनाया गया है। इस अभियान में तेजी और वनस्पतियां हैं, इस अभ्यारण में सर्दी के मौसम में कई प्रवासी पक्षी भी आते हैं, इस समय यहां का पहलू बहुत ही ज्यादा दिलचस्प और मनोरंजक लगता है godavari का पर्यटन का समय सबसे अच्छा नवंबर से जनवरी तक का होता है।

Pocharam dam
Pocharam dam

Pocharam dam यह डैम परचम गांव से 5 किलोमीटर की दूरी पर और मेंदक से 16 किलोमीटर की दूरी एवं हैदराबाद से 109 किलोमीटर की दूरी पर बनाई गई है। Pocharam dam और वन्यजीव अभ्यारण तेलंगाना के मेदक जिले में स्थित है। हैदराबाद से यहां कुछ घंटे बिताने के बाद बहुत ही ज्यादा कुछ नया जैसा महसूस होता है जो कि बहुत ही जगह दिलचस्प और सुंदर दृश्य को प्रदर्शित करता है। पोचराम बांध और वन्य जीव अभ्यारण 130 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है यह नजारा वाकई में बहुत ही जगह दिलचस्प और दिल को छू लेने वाला है। आप जब कभी भी हैदराबाद आए एक बार यहां जरूर विजिट करें।

तो दोस्तों ऊपर की पोस्ट में हमने आंध्र प्रदेश एवं तेलंगाना के विभिन्न प्रकार के पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी ली है अब हम shimla heritage museum,ambalavayal heritage museum, heritage center and aerospace museum अन्य प्रकार के म्यूजियम के बारे में जानेंगे जो कि बहुत ही ज्यादा रोचक होगा तो बने रहें इस पोस्ट के साथ और आनंद लेते रहे।

heritage transport museum यह म्यूजियम गुरुग्राम के NH8 से कुछ मील दूर पर बनाई गई है। इस संग्रहालय में आसपास की भूमि और शांति प्रदेशों के कारण संग्रहालय काफी आश्चर्यजनक चीजों को प्रदर्शित करता है। इस म्यूजियम में प्राचीन खिलौने से लेकर मोटरसाइकिल, क्यों विमान जैसी चीजें देखने को मिलेगी।

Flok heritage museum इस म्यूजियम में ग्रामीण परिवार की कलाकृति के अलावा परमपारीक भूटानी जीवन शैली की एक झलक देखने को मिलती है इस संग्रहालय में विशेष घरेलू वस्तु एवं उपकरण देखने को मिलते हैं। इस म्यूजियम में 150 साल से अधिक पुराने चक्की के पत्थर के साथ एक परमपारिक जल मील, सर जी के साथ पारम्रिक रूप से रसोई उद्यान पिछले 100 वर्षों के दौरान उगाया गया था यह सभी को अच्छी तरीके से प्रदर्शित करता है।

ambalavayal heritage museum इस संग्रहालय में खंड है जो कि वेरास्मृति, गोत्रस्मृति, देवस्मृति और जीवस्मृति है। यह कला को प्रदर्शित करना चाहती है कि जो नवपाषाण युग में 17 शताब्दी तक की है जिसमें प्राचीन उपकरण, मिट्टी की मूर्ति, पत्थर के बने हथियार, यहां पर दर्शन के लिए रखे गए हैं।

तो दोस्तों ऊपर की पोस्ट में हमने म्यूजियम के बारे में जाना आज के इस पोस्ट में हम अभी Nizam Sagar dam, Nizam Sagar dam on which river, Nizam Sagar dam details के बारे में जानेंगे जो कि बहुत ही ज्यादा रोचक और दिलचस्प होगा क्योंकि यह टूरिस्ट प्लेस में से एक है।

Nizam Sagar dam और Nizam Sagar dam details कुछ इस प्रकार हैं। यह डैम godavari नदी की सहायक नदियों पर बनाई गई है यह डैम हैदराबाद से उत्तर पश्चिमी छोर पर स्थित है। हैदराबाद से स्टैंड की दूरी लगभग 145 किलोमीटर है, अचंपेट और वऺजापल्ले के दो कस्बों के बीच बनाई गई है। यह डैम निजामाबाद जिले के अंतर्गत आती है। निजाम सागर बांध का निर्माण भूमि के एक बड़े क्षेत्र में किया गया था और इसकी लंबाई दोनों शहरों का तक करीब लगभग 3 किलोमीटर का हो सकता है। या बांध महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल में से एक हैं जो कि पर्यटक के लिए आकर्षक का केंद्र बना हुआ है, जिसका मुख्य कारण यह है कि इसके ऊपर 14 फीट चौड़ी सड़क बनी हुई है सड़क के ऊपर से एक बांध व चारों ओर से सुंदर दृश्य को देख सकते हैं और बगल में इनके उद्यान का भी अच्छा दृश्य देखने को मिलता है।

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आप लोगों को समलकोट से मिलता जुलता पर्यटन स्थल और उनके बारे में बताया और नजीमाबाद में स्थित पर्यटन स्थल को भी बताया, एवं pocharam wildlife sanctuary और उनके आसपास के पर्यटन स्थल के बारे में भी बताया, और hal heritage center and aerospace museum, heritage museum in india or Nizam Sagar dam, Nizam Sagar dam photos के बारे में बताया और दिखाया। आपको यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। और किसी भी पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी के लिए कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं ताकि आगे की पोस्ट में उसे हम बता सकें।

Related Posts

One thought on “Best 10. place east godavari district temple & dam

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Click Here To Translate