Wednesday, December 1, 2021
HomeHISTORICAL PLACESBest No1 Tourist Places Gujarat gir national park

Best No1 Tourist Places Gujarat gir national park

Best No1 Tourist Places Gujarat gir national park

दोस्त हमने पिछले पोस्ट में गोवा राज्य के प्रमुख पर्यटन स्थल के बारे में जानने। आज हम भारत देश के प्राचीन राज्य गुजरात के बारे में जानेंगे और यहां का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थल के बारे में भी जानेंगे तो दोस्त बने रहिए टूरिज्म प्लेस के बारे में जानने के लिए।

gir national park – गिर राष्ट्रीय उद्यान

gir national park image
gir national park image

यह पार्क गुजरात में है एक वन्य जीव अभ्यारण है। इस अभ्यारण की स्थापना एशियाटिक शेरों की सुरक्षा के लिए की गई थी। गिर राष्ट्रीय उद्यान और वन्य जीव अभ्यारण को सासन गिर नेशनल पार्क के नाम से भी पूरे भारत में जाने जाते हैं। गिर राष्ट्रीय उद्यान को 1965 में स्थापित किया गया था। Where is gir National park यह पार्क पश्चिम भारत के गुजरात में स्थित बाघ संरक्षित क्षेत्र है यह वन्य जीव अभ्यारण एशियाई शेरों की सुरक्षा के लिए बनाया गया था। यह पार्क उत्तर पूर्व में 43 किलोमीटर जूनागढ़ के दक्षिण पूर्व में 65 किलोमीटर और अमरेली से 60 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में स्थित है यह पाक लगभग कौन सा 45 वर्ग मील में फैला हुआ है। गिर राष्ट्रीय उद्यान और वन्य जीव अभ्यारण अफ्रीका के बाद एक मात्र स्थान है जहां शेर दहाड़ता हुए आजाद घूमते हैं यह पार्क 1400 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है और यहां शुष्क पर्णपाती जंगल और सावन वन का मिश्रण होता है इस पार्क में बने वर्मा सी और मौसमी नदियों के साथ पानी के अन्य निकाय को दलदली मगरमच्छों और पक्षियों के लिए यहां पर एक बहुत ही स्वस्थ वातावरण बनाया है। इस वन्य जीव अभ्यारण में 2015 की गणना के अनुसार इस क्षेत्र में लगभग 523 सिर और 300 से अधिक तेंदुए का निवास है इन दोनों जानवरों के साथ ही इस पार्क में दो अलग-अलग प्रजाति के हिरण पाए जाते हैं। इन सभी के अलावा यहां तेंदुआ के लिए भी जाना जाता है चौसिंगा दुनिया का एकमात्र चार सिंह वाला एक मृग है जो कि इस अभ्यारण में मौजूद है। इस पार्क में रेंगने वाले जानवर और उभयचरो की 40 से अधिक प्रजातियों उपस्थित है। Tourist Places Gujarat

इस वन्य जीव अभ्यारण में कमलेश्वर इस पार्क में एक बहुत बड़ा जला से है जिसमें मार्श मगरमच्छ बड़ी संख्या में है। और इस पार्क में किंग कोबरा, रसेल वाइपर, सॉ स्केल्ड वाईपर और क्रेट के साथ अन्य सांप की कई प्रजातियां है। इन सभी के अलावा इस वन्य जीव अभ्यारण में जंगली बिल्ली चीता, स्लॉथ भालू, धारीदार हाइना, रतेल्स, स्वर्ण सियार, भारतीय पाम सिवेट्स, नेवला और विभिन्न बिल्लियाँ जैसे डेजर्ट बिल्ली, रसतेद धब्बेदार बिल्ली आप इस वन्य जीव अभ्यारण में देख सकते हैं। मॉनिटर छिपकली, मार्श मगरमच्छ, भारतीय स्टार कछुआ भी किस अभ्यारण में पाए जाते हैं। यहां पर घूमने के लिए बहुत ही खास जगह भी है जो कि यहां पर आने वाले पर्यटक किस अभ्यारण में मौजूद बहुत ही सुंदर जगहों पर घूमने जाते हैं। when gir national park closed या 12 जून से लेकर अक्टूबर महीने तक दक्षिण पश्चिम मानसून का समय के कारण 16 जून से 15 अक्टूबर तक इस अभ्यारण को प्रोटेक्टेड क्षेत्र बंद रहता है। इसीलिए यहां पर पर्यटक दिसंबर से लेकर मार्च तक यहां पर घूमने आते हैं। यहां का मौसम किस समय बहुत ही अच्छा रहता है और यहां पर आने के लिए भी अच्छा माना गया है। Tourist Places Gujarat

gir national park safari
gir national park safari

gir national park entry fees

यहां पर घूमने वाले पर्यटकों को घूमने के लिए कुछ शुल्क देने पड़ते हैं। भारतीय पर्यटक को के लिए प्रवेश शुल्क ₹75 है और विदेशियों पर्यटकों के लिए ₹100 हैं। इस अभ्यारण में सफारी ले जाने के ₹35 ऊपर से लिए जाते हैं। और फोटोग्राफी शुल्क भी ₹100 लिए जाते हैं। इस अभ्यारण में घूमने के लिए सफारी बुकिंग ऑनलाइन की जा सकती है। gir national park safari एक जीप में 6 भारतीय व्यक्ति के साथ ₹5300 प्रति जीप सफारी शुल्क लगता है। जबकि विदेशियों पर्यटकों के लिए 13800 सफारी का शुल्क लगता है पूरे अभ्यारण घुमाने में और यहां पर खूब मौज मस्ती करते हैं। Tourist Places Gujarat

how to reach gir national park इस पार्क में बड़ी संख्या में पर्यटक को एशियाई शेर देखने के लिए आते हैं और वह आकर्षित भी होते हैं। क्योंकि यह दुनिया भर में एक मात्रा जगह है जहां यह जीव वर्तमान में पाए जाते हैं। यदि आप हवाई जहाज के माध्यम से गिर नेशनल पार्क जाना पसंद करते हैं तो हम आपको बता दें कि यहां के निकटतम हवाई अड्डा केशोद हवाई अड्डा है और राजकोट हवाई अड्डा है। इस पार्क से केशोद हवाई अड्डा लगभग 70 किलोमीटर दूर पर स्थित है और राजकोट हवाई अड्डा लगभग 160 किलोमीटर दूर पर स्थित है। इन दोनों हवाई अड्डा से आप यहां के निजी वाहन के माध्यम से गिरी नेशनल पार्क पहुंच सकते हैं। Tourist Places Gujarat

how to reach gir national park by train यदि आप ट्रेन के माध्यम से यह पाक घूमना चाहते हैं तो हम आपको बता दें। gir national park nearest railway station इस पार्क के निकटतम रेलवे स्टेशन जूनागढ़ और वेरावल रेलवे स्टेशन है। यह दोनों रेलवे स्टेशन मार्ग से लगभग समान दूरी पर स्थित है या रेलवे स्टेशन राज्य की मुख्य रेलवे लाइन है। यहां पर देश के बड़े-बड़े शहरों से यहां ट्रेन आते हैं। यह रेलवे स्टेशन से आप यहां के निजी वाहन या राज्य बस से पहुंच सकते हैं आपको यहां तक पहुंचने के लिए लगभग 2 घंटे का समय लग सकता है। Tourist Places Gujarat

how to reach gir national park by road यदि आप सड़क मार्ग के माध्यम से गिरी नेशनल पार्क जाना पसंद करते हैं तो गिर नेशनल पार्क में आपको रोड की यात्रा के मदद से आपको बेहद खास बन सकता है और किसी भी अन्य विकल्प की तुलना में सबसे अच्छा है। गुजरात के सड़क मार्ग बहुत ही अच्छी है और यह आपको एक सुखद आरामदायक यात्रा का एहसास दिलाएगी यह नेशनल पार्क रोड गुजरात के खास शहरों और स्थानों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है यदि आप इस पार की जाने के लिए आपके पास राज्य बस परिवहन सेवा और निजी बस दोनों उपलब्ध रहते हैं। जो कि गुजरात के कई हिस्सों और शहरों से गिरी नेशनल पार्क के लिए लगातार बस सेवाएं प्रदान करती है गिरी नेशनल पार्क के लिए आपको गुजरात के प्रमुख शहरों में एयरपोर्ट टैक्सी भी आसानी से मिल सकती है। इन सभी यात्रा आप सभी को कुशल मंगल हो। gir national park images इस पार्क की दृश्य देखने में काफी सुंदर लगता है। ahmedabad to gir लगभग 319 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। national park

hotels near gir national park यहां पर रुकने के लिए पर्यटक ओ को बहुत ही सुंदर सुंदर होटल्स है और यहां पर अच्छी-अच्छी भोजन भी मिलती है। hotels in gir national park यहां पर पर्यटकों के लिए बहुत ही सुंदर सुंदर होटल्स है और यहां पर स्वादिष्ट भोजन भी मिलते हैं। sasan gir national park यह पाक पर्यटकों के लिए बहुत ही आकर्षक जगह है। Tourist Places Gujarat

rani ki vav history – रानी कि वाव इतिहास

rani ki vav
rani ki vav

rani ki vav (रानी का वाव) गुजरात राज्य में सरस्वती नदी के तट पर एक छोटे से गांव पाटण में स्थित एक सीडी दार हुए हैं। रानी की वाव गुजरात राज्य के सबसे भय जलीय पर्यटन स्थल है। rani ki vav patan (रानी की वाव पाटण) गांव में स्थित है। Tourist Places Gujarat इसे 22 जून 2014 में यूनेस्को की विश्व धरोहर में शामिल किया जा चुका है। रानी की वाव जुलाई 2018 में भारतीय रिजर्व बैंक ने ₹100 की नोट पर चित्रित किया गया है। इसका निर्माण 1063 से 1068 ईसवी के दौरान 40 वर्ष के भीमदेव सोलंकी की याद में उनकी विधवा रानी उदय मती द्वारा एक स्मारक के रूप में निर्माण कराया गया था। Tourist Places Gujarat

यह स्थान जल्द संग्रहाल के अलावा सोलंकी वंश की वस्तु कला और उसके समय से रुचि करता है। यहां के लोगों का मानना है कि पुराने समय में इस कुआ की पानी बहुत महत्व था। इस पानी को पीने से कोई बीमारियों नहीं फैलती थी इससे अशुद्धियों गुणों के संपन्न के रूप में जाना जाता था। Tourist Places Gujarat इस पानी को पीने से बुखार जैसी बीमारियों तुरंत ठीक हो जाती थी। Tourist Places Gujarat इस कुएं में भगवान विष्णु की प्रतिमाओं की आकर्षित नक्काशी देखने को मिलता है। यहां पर दूर-दूर के पर्यटक यात्रा करने के लिए आते हैं आप लोग भी एक बार इस कुआ पर जरूर यात्रा करने के लिए जाएं। where is rani ki vav रानी कि वह भारत के गुजरात राज्य के पाटन क्षेत्र में स्थित है। यह एक प्राचीन सीढ़ीदार कुआ हैं। rani ki vav photos यहां का दृश्य देखने में काफी सुंदर लगता है। ahmedabad to rani ki vav लगभग 128 किलोमीटर की दूरी पड़ता है। Tourist Places Gujarat

dwarkadhish temple dwarka | द्वारकाधीश मंदिर द्वारका

‌dwarkadhish temple गुजरात राज्य की पवित्र नगरी द्वारका में गोमती नदी के तट पर स्थित है। इस मंदिर को जगत मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में भगवान कृष्ण जी की प्रतिमा है। द्वारकाधीश मंदिर द्वारका भारत के सबसे प्रमुख और भव्य मंदिर में से एक है। यह मंदिर यहां के लोगों का मानना है कि 22 साल पुराना द्वारकाधीश मंदिर है। Tourist Places Gujarat इस मंदिर का निर्माण ब्रजनाथ द्वारा किया गया था। shree dwarkadhish temple गुजरात का सबसे सर्वश्रेष्ठ मंदिर माना जाता है इस मंदिर में दूर-दूर से भक्त जन पूजा करने के लिए आते हैं। dwarkadhish temple timings इस मंदिर में सुबह होने वाली आरती ओ भोग और सिंघार किस किस समय किए जाते हैं।

dwarkadhish temple
dwarkadhish temple

इस मंदिर में मंगल आरती सुबह 6:30 बजे होता है। मंगल दर्शन 7:00 से 8:00 के बीच होता है और यहां पर अभिषेक 8:00 से 9:00 के बीच होता है। और सिंगार दर्शन 9:00 से 9:30 के बीच होता हैं। यहां पर अलग अलग तरीके के अलग-अलग समय में किए जाते हैं। dwarkadhish temple mathura timings शाम के समय में यहां पर 5:00 बजे उत्पादन प्रार्थना दर्शन होता है और 5:30 से 5:45 के बीच में उत्पादन भोग लगता है। यहां पर पूजा करने के लिए हर एक चीज की एक समय होता है वह अपने समय के अनुसार यहां पर पूजा की जाती है। dwarkadhish temple gujarat यह मंदिर यहां का सबसे सर्वश्रेष्ठ मंदिर में से एक है। dwarkadhish temple live darshan आप इसे सुबह या शाम में लाइव दर्शन टीवी चैनल के माध्यम से देख सकते हैं। dwarkadhish temple mathura यह मंदिर उत्तर प्रदेश के मथुरा में सबसे प्रसिद्ध माना जाता है और वहां का सबसे पवित्र मंदिर में से एक है। Tourist Places Gujarat

dwarkadhish temple timing यहां पर पर्यटक वर्ष के किसी भी समय में द्वारका मंदिर की यात्रा कर सकते हैं लेकिन द्वारका जाने का आदर्श समय नवंबर से फरवरी के आखरी तक बहुत ही अच्छा है क्योंकि यहां उस समय ठंड का मौसम रहता है। और वहां पर दर्शन के लिए लोग काफी मात्रा में जाते हैं और वहां पूजा-अर्चना भी करते हैं इस समय यहां पर बहुत आनंददायक दृश्य देखने के लिए मिलता है। इसीलिए इस महीने को यहां पर सबसे अच्छा महीना माना गया है घूमने के लिए। Tourist Places Gujarat

white desert in india (सफेद रेगिस्तान भारत में) गुजरात राज्य में स्थित है। लोगों का मानना है कि रेगिस्तान राजस्थान में ही है। बल्कि नहीं राजस्थान के अलावा गुजरात के कच्छ में भी रेगिस्थान है। यह रेगिस्तान सफेद रेगिस्तान रेत का नहीं बल्कि नाम का सफेद रेगिस्तान है। white desert kutch यह रेगिस्तान गुजरात के कच्छ में स्थित है। white desert यह स्थान पर्यटकों के लिए घूमने का सबसे महत्वपूर्ण स्थान है। gujarat white desert यहां का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थल माना जाता है। white desert in gujarat (गुजरात में सफेद रेगिस्तान) पर्यटकों के लिए बहुत ही आकर्षक जगह है। the great rann of kutch या रेगिस्तान दरअसल कच्छ एक द्वीप है जो भारत की मुख्य भूमि से अलग है कच्छ और मुख्य भूमि के बीच एक समुद्र का छोटा सा हिस्सा आता है जो बारिश के मौसम के बाद पूरी तरह से सूख जाता है और फिर यहां चारों तरफ सफेद जमीन दिखने लगता है जो कि इसे सफेद रेगिस्तान के नाम से जाना जाता है। इसे ही कच्छ कहते हैं। great rann of kutch biosphere reserve यहां पर 2 रन है एक बड़ा रन और दूसरा छोटा रन जो कि यहां की सबसे प्रमुख पर्यटन स्थल माना जाता है। यहां पर एक रण उत्सव पूरी दुनिया में मशहूर है यहां पर हर साल नवंबर से फरवरी के बीच रण महोत्सव मनाया जाता है। या उत्सव धोरडो नामक गांव में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। Tourist Places Gujarat

somnath temple history in hindi – सोमनाथ मंदिर इतिहास हिंदी में

somnath temple यह मंदिर गुजरात के पश्चिम तट पर सोराष्ट्र में वेरावल बंदरगाह के पास प्रभास पाटन में स्थित है। इस मंदिर को भारत में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक पहला ज्योतिर्लिंग माना जाता है। somnath temple gujarat यह गुजरात का एक महत्वपूर्ण तीर्थ और पर्यटन स्थल माना जाता है। यह मंदिर प्राचीन समय से कई मुस्लिम आक्रमणकारियों और पुर्तगालियों द्वारा बार-बार ध्वस्त करने के बाद वर्तमान हिंदू मंदिर का पूर्ण निर्माण वास्तु कला की शैली में किया गया है। सोमनाथ मंदिर का अर्थ है। भगवान किए भावना जिससे भगवान शिव का अंश माना जाता है उसे ही सोमनाथ कहा जाता है। somnath jyotirlinga temple गुजरात का सोमनाथ मंदिर भगवान शिव के समर्पित है। इस मंदिर में आने वाले श्रद्धालु की मनोकामना जरूर पूरी होती है। इस मंदिर में प्राचीन वस्तु कला को पूरे देश में और पूरे दुनिया भर में प्रसिद्ध माना जाता है। यहां पर देश के सभी जगहों से भारी संख्या में पर्यटक दर्शन के लिए आते हैं। somnath temple history सोमनाथ मंदिर को महमूद गजनवी ने इस मंदिर पर आक्रमण करके लूटा था। Tourist Places Gujarat

Tourist Places Gujarat
Tourist Places Gujarat

जो इतिहास की एक प्राचीन घटना है। इसी घटना के बाद इस मंदिर का नाम पूरी दुनिया में विख्यात आ हो गया था। somnath temple in gujarat यहां पर दूर-दूर से पर्यटन दर्शन के लिए आते हैं। history of somnath temple इस मंदिर का इतिहास बहुत ही पुराना है और यहां पर लोग काफी जनसंख्या में पूजा करने के लिए आते हैं। where is somnath temple यह मंदिर गुजरात के पाटन गांव में स्थित है। somnath temple timings यह मंदिर सुबह 7:30 बजे से रात के 10:00 बजे तक खुली रहती है। somnath temple images इस मंदिर का दृश्य देखने में काफी सुंदर लगता है। somnath temple attack यहां पर शाम के समय में आरती बहुत ही सुंदर तरीके से होते हैं और आरती के समय में बहुत श्रद्धालु भाग लेते हैं। आरती के बाद यहां पर प्रसाद वितरण भी होते हैं। somnath temple location यह मंदिर गुजरात में स्थित है। somnath mandir pin code 366191

Top No1 Famous tourist places south goa all beach

निष्कर्ष

तो दोस्त हमने भारत देश का सबसे प्राचीन राज्य गुजरात के पर्यटन स्थल के बारे में जानने। और यहां का सबसे सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थल के बारे में भी अच्छी तरह से जान लिए हैं। और यहां पर आने जाने की सुविधा के बारे में भी जानने। तो दोस्त हम आपके लिए टूरिज्म प्लेस की जानकारी लाते रहते हैं यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। यदि आप गुजरात घूमने जाते हैं तो आपकी यात्रा कुशल मंगल हो। Tourist Places Gujarat

RELATED ARTICLES

Most Popular

5,555FansLike
5,555FollowersFollow
4,569FollowersFollow
0FollowersFollow
4,444FollowersFollow
Click Here To Translate